प्रेरक ने लगाया जिला परियोजना अधिकारी पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप

Share with:


विराट24 न्यूज़ रीवा

– आज जहां प्रदेश और देश की सरकार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बात करती है और सुरक्षा देने का दम भी भर रही है वहीं महिलाएं जहां अपने कार्यालयों में सुरक्षित नहीं है वही आए दिन होने वाली घटनाएं यही बताती है कि अब घर से लेकर कार्यालय तक सुरक्षित नहीं है ,ताजा मामला राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन कार्यालय का है जहां पर प्रेरक के रूप में पदस्थ महिला को कार्यालय का वरिष्ठ अधिकारी लंबे समय से मानसिक और शारीरिक प्रताड़ित कर रहा था आज सर से पानी उस समय पार हो गया जब महिला के मोबाइल में अश्लील वीडियो भेज कर आरोपी ने अपनी मंशा जाहिर की मामले की शिकायत पीड़िता ने एडीएम से की है जिसकी एडीएम ने कार्यवाही करने की बात कही। रीवा मुख्यालय में संचालित राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन कार्यालय का जिला परियोजना अधिकारी की प्रताड़ना से प्रेरक के रूप में कार्य करने वाली कर्मचारी ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर अपनी पीड़ा बताते हुए कहा कि उसके कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारी डीपी सिंह लंबे समय से विभिन्न तरीकों से प्रताड़ित कर रहे हैं कभी मोबाइल में मैसेज भेज कर बात करने के लिए तो कभी पर्सनल छींटाकशी करते हुए आपत्तिजनक टिप्पणी करते है। जिसकी शिकायत वह अपने पति से करती थी क्योंकि उसका पति भी इसी कार्यालय में पदस्थ है जिसके चलते अधिकारी महिला के पति को भी प्रताड़ित करता था और उसे स्थानांतरित कर दूसरी जगह पदस्थ कर देता था आज हद उस समय हो गई जब महिला के मोबाइल में डीपी सिंह ने अपने मोबाइल से कई अश्लील वीडियो भेज कर महिला को प्रताड़ित किया। महिला ने अपने वार्ड की पार्षद और रिश्तेदार नम्रता सिंह से बताई जिसके बाद पार्षद ने पीड़िता को लेकर कलेक्टर कार्यालय पहुंची और एडीएम से शिकायत दर्ज कराई । लेकिन अधिकारी पीड़ित कर्मचारी की बात सुनने के लिए तैयार नहीं थे और उसे अपने कक्ष से बाहर जाने की बात कहते हुए सतर्कता विभाग और पुलिस में शिकायत करने की बात कही लेकिन जब मीडिया ने हस्तक्षेप किया कि पीड़ित महिला अगर आपके पास नहीं आएगी तो कहां जाएगी और आपके द्वारा कार्यवाही के लिए क्यों नहीं लिखा जा रहा तब जाकर एडीएम बीके पांडेय कि मानवता जगी और कार्यवाही का आश्वासन दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *