Share with:


हत्या ,हत्या के प्रयास ,लूट जैसे संगीन मामलों का फरार आरोपी गिरफ्तार।

विराट24 न्यूज़-रीवा। लूट, चोरी, हत्या, हत्या के प्रयास जैसे संगीन मामलों में फरार आरोपी को पुलिस ने दबिश देकर उसके घर से पकड़ा है। आरोपी से पुलिस पूछताछ कर रही है ।जानकारी के अनुसार राहुल रजक उर्फ राहुल रसिया निवासी रसिया मोहल्ला थाना सिविल लाइन चैन स्नैचिंग चोरी के मामलों में फरार चल रहा था। जबकि बताया जाता है कि आरोपी हत्या और हत्या के प्रयास के मामलों में जमानत पर छूटकर आया आया है। मुखबिर की सूचना पर सिविल लाइन पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है।
फ़ोटो
0000000000000000000000000

कलयुगी बेटे ने माता-पिता पर किया प्राणघातक हमला

विराट24 न्यूज़-रीवा। जमीन हिस्सा बांट को लेकर भाई और माता पिता के बीच चल रहे विवाद को लेकर रविवार की सुबह कलयुगी बेटे ने अपने पिता पर प्राणघातक हमला कर दिया। बीच-बचाव करने पहुंची वृद्ध मां को भी नहीं छोड़ा और उसके भी साथ मारपीट की, मां-बाप की चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग दौड़े तो मारपीट करने वाला भाग निकला। दोनों घायलों को स्थानीय लोगों ने 108 एंबुलेंस की मदद से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने संजय गांधी अस्पताल के लिए रेफर कर दिया है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शिवधारी साकेत उम्र 55 वर्ष निवासी पटेरा थाना मऊगंज का सगा बेटा अनिल साकेत जमीन जायदाद बंटवारे को लेकर विवाद कर रहा था। हिस्सा बांट के लिए हो रहे विवाद के चलते डंडे से अनिल पिता के ऊपर हमला कर दिया, पति की चीख-पुकार सुनकर पत्नी बाहर निकली तो उसके ऊपर भी डंडे से हमला कर दिया और मौके से भाग निकला ।बताया जाता है कि भाई और पिता से जमीन जायदाद के बंटवारे को लेकर विवाद था आरोपी अनिल रविवार को ही हिस्सा बांट चाहता था, जबकि पिता कुछ समय के बाद हिस्सा बांट की बात कह रहा था। पुलिस आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।
फ़ोटो

000000000000000000000000000

पकड़े गए ठग कमल के खिलाफ दो और शिकायतें

विराट24 न्यूज़-रीवा। बीते दिनों रिटायर्ड सेना के जवान के साथ एक दर्जन बेरोजगारों को रोजगार दिलाने और सब्सिडी के नाम पर लाखों रुपए की ठगी करने वाले आरोपी कमल सिंह के पकड़े जाने के बाद पुलिस के द्वारा पैतृक गांव में तलाशी ली गई थी ।तलाशी के दौरान पुलिस को कुछ बैंक से जुड़े दस्तावेज आरोपी कमल के घर मिले थे ।जिसके आधार पर पुलिस ने दस्तावेज में मिले नामों के आधार पर पूछताछ के लिए दो युवकों को बुलाया था ।रविवार को पहुंचे युवकों ने शिकायत दर्ज कराया कि पकड़े गए ठग कमल सिंह के द्वारा फाइनेंस कराने के नाम पर उनसे भी पैसा लिया था और आजकल पर टरका रहा था ।पहुंचे शिकायतकर्ताओ में हरिओम मिश्रा पिता दिनकर मिश्रा निवासी शाहपुर थाना सिरमौर शुभम मिश्रा पिता अशोक कुमार मिश्रा निवासी शाहपुर थाना सिरमौर ने भी सिविल लाइन पुलिस से शिकायत दर्ज कराई है। बताया जाता है कि दोनों युवकों से सब्सिडी और बुलेरो फाइनेंस कराने के नाम पर आरोपी ने पैसे ठगे थे।
फ़ोटो
0000000000000000000000000
एटीएम फ्रॉड करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार

विराट24 न्यूज़-रीवा। जिले में इन दिनों एटीएम फ्रॉड करने वाले गिरोह सक्रिय है जो आए दिन एटीएम बदलकर लोगों की गाढ़ी कमाई उड़ा रहे हैं। विगत दिनों मनगवां थाना क्षेत्र निवासी अमृत लाल विश्वकर्मा ने थाना पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई थी कि उसके खाते से 29 दिसंबर को 51000 निकाल लिए गए हैं। पुलिस पीड़ित की शिकायत दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही थी एटीएम बूथ में लगे सीसीटीवी फुटेज और बैंक अकाउंट के आधार पर पुलिस विकास पटेल निवासी कुइयां अश्विनी शोधिया, सानू सिंह निवासी तमहा को पकड़कर पूछताछ किया तो आरोपियों ने वारदात कबूल ते हुए 18000 और एटीएम कार्ड जप्त करा दिया। पकड़े गए आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है, जिनसे और एटीएम फ्रॉड के मामलों का खुलासा होने की संभावना है।

कैसे पहुची पुलिस

बताया जाता है कि एटीएम फ्रॉड का मुख्य सर गाना विकास पटेल निवासी कुइयां है। जो ज्यादातर दिल्ली में रहता है। वारदात कर बाहर चला जाता है, पुलिस को पीड़ित अमृत लाल विश्वकर्मा द्वारा मिले बदले में एटीएम से जानकारी जुटाई गई तो वह एटीएम अश्विनी सोंधिया का निकला था। एटीएम फ्रॉड कि संदिग्धों की तलाश पुलिस कर रही थी उसी समय अश्विनी सोंधिया नाम के युवक के संबंध में जानकारी मिली कि इस समय इसके द्वारा जमकर पैसे उड़ाए जा रहे हैं। पुलिस आरोपी को उठाकर पूछताछ किया तो उसने बताया कि मैं अपना एटीएम विकास पटेल को दिया था। जानकारी मिलते ही पुलिस विकास पटेल को उठाया और पूछताछ किया तो आपने अन्य साथी सानू सिंह निवासी तमहा के साथ वारदात को अंजाम देने की बात कबूली। पुलिस पीड़ित अमृत लाल विश्वकर्मा को बुलाकर पहचान कराया तो पीड़ित ने पहचान करते हुए बताया कि एटीएम बदलने वाला आरोपी विकास पटेल था।

वर्जन
अमृत लाल विश्वकर्मा नाम के व्यक्ति के द्वारा एटीएम बदलकर पैसा निकालने की शिकायत दर्ज कराई गई थी। पीड़ित को जो एटीएम मिला था वह अश्वनी सोंधिया नाम के युवक का था, जिसकी तलाश की गई तो एटीएम फ्रॉड करने वाले तीनों आरोपियों के संबंध में पता चला जिन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है और एटीएम फ्रॉड के खुलासे की संभावना है।
मृगेंद्र सिंह
थाना प्रभारी मनगवां

00000000000000000000000000000

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *