रैक के माध्यम से भेजे गए चावल को सीधा मिलर के यहां से परिवहन कर शासन को आर्थिक क्षति पहुंचाने की जांच शुरू, भोपाल से पहुंची टीम

Share with:


Virat24news rewa

रीवा जिले से रैक के माध्यम से भेजे गए चावल सीधा मिलर के यहां से परिवहन कर रैक में लोड कर शासन को आर्थिक क्षति पहुंचाने संबंधी मिली शिकायत की जांच करने पहुंचे 5 सदस्य टीम चावल की रेट भेजने की पूरी प्रक्रिया एवं राइस मिल से सीधे कितना चावल राइट में लोड किया गया कितना चावल एमपीएससी एससी मार्कफेड के गोदामों में लोड किया गया यह चावल किन किन वर्षों का था क्या उस जिले में उसके पूर्व का भी चावल गोदामों में रखे होने के बावजूद सीधे राइस मील से वर्ष 2018 -19 का चावल भेजा गया है की करेगा जांच ,मध्य प्रदेश वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक्स कार्पोरेशन तथा मध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाईज कॉरपोरेशन के अधिकारियों की संयुक्त जांच दल पहुंचा रीवा, एलएल अहिरवार क्षेत्रीय प्रबंधक भोपाल, बसंत बसेर सहायक महाप्रबंधक वित भोपाल, डीके त्रिपाठी शाखा प्रबंधक एमपीडब्ल्यूएलसी सतना, एसके भारती प्रबंधक लेखा एमपीडब्ल्यूएलसी रीवा, तथा राजेंद्र सिंह ठाकुर जिला आपूर्ति अधिकारी रीवा कलेक्टर रीवा के प्रतिनिधि के रूप में मामले की कर रहे जांच, 18 जून को प्रमुख सचिव खाद्य को सौंपेंगे जांच प्रतिवेदन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *