लापता युवक का मिला क्षत-विक्षत शव परिजनों में आक्रोश

Share with:


Virat24news

परिजनों ने लगाया अपहरण के बाद हत्या का आरोप

लापता युवक का क्षति-विक्षत हालत में मिला शव

कोतवाली पुलिस के खिलाफ व्यापारियों में रोष
मामले को लेकर एसपी को सौंपा था ज्ञापन

कोतवाली थाना क्षेत्र से लापता हुए युवक का 7 दिन बाद नदी में उतराता हुआ शव मिलने से सनसनी फैल गई। घटना को लेकर परिजनों ने अपहरण कर हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शव को नदी से बाहर निकलवाया और पोस्टमार्टम के लिए संजय गांधी अस्पताल भेज दिया है। इस पूरे घटना क्रम को लेकर जहां कोतवाली पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है, वहीं व्यापारी वर्ग में आक्रोश भी है। बुधवार को चिकित्सकों की टीम शव का पोस्टमार्टम करेगी।
रीवा। जानकारी के अनुसार रानीतालाब अशोक नगर निवासी बंटी बाधवानी पुत्र प्रहलाद बाधवानी 7-8 मई की दरमियानी रात से लापता हो गया था। युवक जब रात भर वापस नहीं आया तो अगले दिन परिजन कोतवाली थाना पहुंच कर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराए। लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। लिहाजा व्यापारियों के संगठन ने इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक को भी ज्ञापन सौंपा था, लेकिन इसके बाद भी पुलिस की जांच में तेजी नहीं आई। जबकि मामले में परिजन शुरू से ही कुछ लोगों पर अपहरण की शंका जता रहे थे। लिहाजा पुलिस सोती रह गई और युवक की मृत्यु हो गई। युवक का शव मंगलवार की दोपहर सैनिक स्कूल के आवासीय कॉलोनी के पीछे बीहर नदी में झाड़ियों के बीच देखा गया। सूचना मिलने के तत्काल बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई और गोताखोरों की मदद से शव को बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

प्रेम प्रसंग से जुड़ा है मामला
परिजनों ने बताया कि युवक का निपनिया निवासी एक युवती के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। 7 की रात वह युवती से मिलने के लिए ही निकला था। जिसके बाद घर नहीं लौटा। परिजनों ने संदेह जाहिर किया है कि युवती के परिजनों ने ही युवक की हत्या की है। इसके बाद उसके शव को बीहर नदी में फेक दिया है।

3 दिन पूर्व देखा गया था शव
इस पूरे मामले में कोतवाली पुलिस की संवेदनहीनता साफ नजर आई है। परिजनों के आरोप के बाद भी पुलिस ने युवती के परिजनों को टच नहीं किया। इतना ही नहीं तीन दिन पूर्व भी सैनिक स्कूल के पास युवक के शव देखे जाने का दावा किया गया था। लेकिन पुलिस नदी में उतरी और खाना पूर्ति कर वापस लौट आई थी। जिसके चलते शव तीन दिन तक पानी में पड़ा रहा।

क्षत विक्षत हालत में था शव
युवक के शव से अंदाजा लगाया गया है कि उसकी मौत 4 से 5 दिन पूर्व हुई होगी। जिसके चलते उसका शरीर पानी में पड़े-पड़े फूल गया है। इतना ही नहीं चेहरा, उंगली व हाथ-पैर बुरी तरह से डैमेज हो चुके थे। जिससे यह पता नहीं चल पा रहा है कि युवक के शरीर में चोट है या नहीं। फिलहाल युवक के शव को एसजीएमएच के मर्चुरी में रखवा दिया गया है, जहां बुधवार को चिकित्सकों की टीम पोस्टमार्टम करेगी।

व्यापारिक संगठन में आक्रोश
इस पूरे घटनाक्रम को लेकर जिले के व्यापारियों में काफी आक्रोश पनप रहा है। वह कोतवाली थाना प्रभारी समेत जांच अधिकारी के विरुद्ध आंदोलन करने की तैयारी कर रहे हैं। उनका कहना है कि पुलिस की लापरवाही से युवक की हत्या की गई है। यदि पुलिस शुरू से मामले में गंभीरता बरतती तो युवक की हत्या नहीं हो पाती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *